सीएए भारत का अंदरूनी मसला पर जरूरत क्या

सीएए भारत का अंदरूनी मसला पर जरूरत क्या

बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर कहा है कि यह भारत का अंदरूनी मसला है। हालांकि उन्होंने कहा कि इसे पारित करने की जरूरत को वह समझ नहीं सकी हैं तथा इस कानून की जरूरत ही नहीं थी। श्रीमती हसीना ने कहा कि बांग्लादेश ने हमेशा से यह माना है कि राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) और सीएए भारत का आतंरिक मामला है।

Jan 20, 2020 12:18:33 - मे प्रकाशित

अपना काँमेंट लिखें

सब