भारत को हराकर बांग्लादेश पहली बार बना चैंपियन

भारत को हराकर बांग्लादेश पहली बार बना चैंपियन

यहां सेनवेस पार्क मैदान पर खेले गए आईसीसी अंडर-19 विश्व कप के फाइनल मैच में रविवार को मौजूदा चैंपियन भारत को डकवर्थ लुइस नियम के तहत तीन विकेट से हराकर पहली बार खिताब अपने नाम कर लिया। बांग्लादेश की ओर से प्रवेज हुसैन इमोन ने 47, कप्तान अकबर अली ने नाबाद 43 और तंजीद हसन ने 17 रन बनाए। 

बांग्लादेश की ओर से अकबर अली की नाबाद 43 की कप्तानी पारी और परवेज हुसैन एमोन 47 रनों की पारी की बदौलत बांग्लादेश ने भारत को 3 विकेट से हराकर पहला आईसीसी अंडर-19 विश्व कप अपने देश के नाम किया। भारत से मिले 178 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश ने 23 गेंद शेष रहते डकवर्थ लुइस नियम के तहत सात विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया।

हालांकि भारत की ओर से रवि बिश्नोई ने शानदार गेंदबाजी करते हुए चार विकेट अपने नाम किए, लेकिन वो भी अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके।


बांग्लादेश काे पहला झटका रवि बिश्नोई ने दिया। उन्होंने बांग्लादेश की मजबूत होती ऑपनिंग पार्टनरशिप को तोड़ा। बांग्लादेश को पहला झटका तंजीद हसन के रूप में लगा। तंजीद हसन ने 17 रन बनाएं। वहीं महमूदुल हसन जॉय भी कुछ खास नहीं कर पाए और 8 रन बनाकर रवि बिश्नोई का दूसरा शिकार बने। खबर लिखे जाने तक बांग्लादेश 41 ओवर में 163/7 बनाकर खेल रही है।

इससे पहले सलामी बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल (88) की संघर्षपूर्ण पारी के बावजूद भारत यहां सेनवेस पार्क मैदान पर जारी आईसीसी अंडर-19 विश्व कप के फाइनल में रविवार को बांग्लादेश के खिलाफ 177 रनों का स्कोर ही बना सका। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत काफी खराब रही और टीम ने नौ रन के अंदर ही दिव्यांश सक्सेना (2) का विकेट गंवा दिया। इसके बाद जायसवाल और तिलक वर्मा (38) ने दूसरे विकेट लिए 94 रन की साझेदारी करके भारत को संकट से बाहर निकालने की कोशिश की।
हालांकि तभी तिलक भी आउट हो गए। तिलक ने 65 गेंदों पर तीन चौके लगाए। इसके बाद भारतीय टीम नियमित अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई। हालांकि जायसवाल ने एक छोर संभाले रखा। जायसवाल जब तक विकेट पर ऐसा लग रहा था कि भारतीय टीम 225 के आसपास तक पहुंच जाएगी।

लेकिन जायसवाल भी टीम के 156 के स्कोर पर चौथे विकेट के रूप में आउट हो गए। जायसवाल ने 121 गेंदों पर आठ चौके और एक छक्का लगाया। उनके आउट होने के बाद टीम कुछ खास नहीं कर सकी और 177 रन तक ही पहुंच सकी। भारतीय टीम 13 पारियों में पहली बार ऑलआउट हुई है।

कप्तान प्रियम गर्ग ने सात, ध्रुव जुरेल ने 22, अथर्व अंकोलेकर ने तीन, रवि बिश्नोई ने दो, सुशांत मिश्रा ने तीन और आकाश सिंह ने नाबाद एक रन बनाया।

बांग्लादेश की ओर से अविषेक दास ने तीन और शारिफुल इस्लाम तथा तंजीम हसन शाकिब ने दो-दो जबकि राकिबुल हसन ने एक विकेट अपने नाम किए।

Feb 10, 2020 00:13:17 - मे प्रकाशित

अपना काँमेंट लिखें

सब