काम केंद्र का, क्रेडिट खाने की कोशिश केजरीवाल की: दिल्ली में 10000 बेड्स के कोविड अस्पताल को लेकर AAP की राजनीति

काम केंद्र का, क्रेडिट खाने की कोशिश केजरीवाल की: दिल्ली में 10000 बेड्स के कोविड अस्पताल को लेकर AAP की राजनीति

जहाँ एक तरफ दिल्ली में कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है, दूसरी तरफ मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल कह रहे हैं कि राजधानी में हालात काबू में है। इतना ही नहीं, जब केजरीवाल की AAP सरकार की नाकामी के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह मैदान में उतरे और उन्होंने कोरोना से निपटने की तैयारियों का जिम्मा सम्भाला, तब आम आदमी पार्टी की सरकार केंद्र द्वारा किए जा रहे कार्यों का क्रेडिट खाने के मूड में भी है।

आम आदमी पार्टी ने अपने आधिकारिक हैंडल से ट्वीट कर के कहा कि राधास्वामी सत्संग ब्यास सेंटर में कोविड केयर सेंटर की स्थापना की गई है, जहाँ 10,000 बेड्स में से 2000 बेड्स को सक्रिय कर दिया गया है। साथ ही पार्टी ने ये भी दावा किया कि ये दुनिया का सबसे बड़ा कोविड केयर फैसिलिटी है जिसे अरविन्द केजरीवाल सरकार ने तैयार किया है। यहाँ भी पार्टी केंद्रीय गृह मंत्रालय का क्रेडिट खाने के प्रयास से बाज नहीं आई।

भाजपा सरकार के काम की क्रेडिट लेना तो दूर की बात थी, आप नेता संजय सिंह ने तो एक क़दम और आगे बढ़ कर केंद्र सरकार द्वारा किए गए काम को लेकर केंद्र को ही कोसना शुरू कर दिया। उन्होंने दावा किया कि जहाँ लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की स्मृति में जहाँ भाजपा ने सबसे ऊँची प्रतिमा बनवाई, वहीं आप सरकार ने सबसे बड़ा अस्पताल बनवाया। जबकि सच्चाई ये है कि दोनों काम केंद्र सरकार ने ही कराए हैं।

Jun 27, 2020 17:31:19 - मे प्रकाशित

अपना काँमेंट लिखें

सब