बकेवर पुलिस के संरक्षण में खुला घूम रहा है रेप का आरोपी

देवमई चौकी इंचार्ज भुक्तभोगी को ही कर रहा है परेशान

अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट  फतेहपुर के आदेश के बाद दर्ज मुकदमे में रेप पीड़िता को आरोपी जहां तरह -तरह की धमकियां दे रहा है।वही चौकी इंचार्ज देवमई भी उसे परेशान कर रहा है। मामला बकेवर थाना के ग्राम बिजौली का है, जहां 11 नवंबर को गांव के ही एक युवक ने एक गाँव की ही महिला के साथ जबरिया दुष्कर्म किया था।

थाना बकेवर के ग्राम बिजौली मे गत 11 नवंबर को एक महिला खेतों में गई थी, उसी समय गांव का ही युवक आशीष कुमार उर्फ मोनू अवस्थी ने जबरिया अपनी हवस का शिकार बना लिया था। जिसकी शिकायत भुक्तभोगी  महिला ने  बकेवर थाना पुलिस से की थी। आरोपी के प्रभाव में आकर बकेवर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की, तो उसने न्यायालय की शरण लिया। न्यायालय के आदेश पर बकेवर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज तो कर लिया किंतु अभी तक आरोपी की गिरफ्तारी नहीं कर रही है। उल्टे भुक्तभोगी महिला के घर जाकर पुलिस उसे धमका रही है। जबकि महिला 161 के तहत बयान  दर्ज करा चुकी है, और डॉक्टरी मुआयना  के बाद न्यायालय में भी 164 के तहत बयान दे चुकी है।

इसके बाद भी चौकी इंचार्ज देवमई रजनीश तिवारी प्रतिदिन आकर भुक्तभोगी महिला को डरा धमका कर बयान बदलने को कह रहे हैं। महिला ने आरोप लगाया है कि चौकी इंचार्ज देवमई आरोपी युवक से मिले हुए हैं, इसीलिए उसे गिरफ्तार नहीं कर रहे हैं। जिससे आरोपी युवक द्वारा उसे मुकदमा वापस न लेने पर जान से मार देने की धमकी दे रहा है। महिला ने आरोपी युवक को गिरफ्तार किए जाने की मांग की है।

प्रकाशित तारीख : 2020-02-11 06:30:33

अपना काँमेंट लिखें