अद्भुत शख्सियत श्री संजय राउत

अद्भुत शख्सियत श्री संजय राउत

शिवसेना के राज्यसभा सांसद और प्रवक्ता श्री संजय राउत अद्भुत व्यक्तित्व के स्वामी हैं। सरल, सहज, विनम्र, वाकपटु व कुशल रणनीतिकार श्री संजय राउत मेरे अग्रज, मार्गदर्शक हैं। मेरा पत्रकारिता हो या सामाजिक जीवन दोनों में आगे बढ़ने के लिए मुझे उनका मार्गदर्शन प्राप्त हुआ है। कोई भी मुद्दा होता है मुझे वे मेरे हित की सलाह देते हैं और मुझे इसका बेहद गर्व है।

श्री संजय राउत जी 15 अक्टूबर 1961 को मुंबई में जन्मे। यहीं से स्नातक करने के बाद उन्होंने बतौर पत्रकार अपने करियर की शुरुआत मराठी अखबार से की। शुरुआत से ही उनकी लेखनी पर अच्छी पकड़ रही। मीडिया और राजनीति के बीच दोस्ताना याराना होता है और यही दोस्ती संजय राउत के लिए कामयाबी का रास्ता बनी। पत्रकारिता के दौरान ही राज ठाकरे से मुलाकात हुई और फिर राउत की जिंदगी में नया मोड़ आ गया। राउत साहब जल्दी ही हिंदुह्र्दय सम्राट बाला साहेब ठाकरे के खास बन गए और जब सामना की शुरुआत हुई तो कुछ ही समय में वह इसके कार्यकारी संपादक बन गए। फिर तो इसके बाद वे कामयाबी के रास्ते पर आगे बढ़ते ही गए।

ठाकरे परिवार का भरोसा जीतने का उन्हें इनाम भी मिला और 'सामना' के कार्यकारी संपादक के अलावा 2004 में पहली बार  राज्यसभा सांसद भी बने और इसके बाद से वह अब राज्यसभा में पार्टी की ओर से मुखर आवाज बने हुए हैं। इसके अलावा भी श्री संजय राउत महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री श्री उद्धव ठाकरे जी कुशल रणनीतिकार भी हैं।

Mar 16, 2020 13:19:40 - मे प्रकाशित

अपना काँमेंट लिखें

सब