​दिहाड़ी मजदूरों के खाते में सीधा ट्रंसफर हो पैसा, देरी होगी विनाशकारी - गांधी

​दिहाड़ी मजदूरों के खाते में सीधा ट्रंसफर हो पैसा, देरी होगी विनाशकारी - गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व सांसद राहुल गांधी ने कहा कि हमारा देश कोरोना वायरस से युद्ध लड़ रहा है। आज सवाल ये है कि हम ऐसा क्या करें कि कम से कम जान जाए? उन्होंने ट्वीट करके कहा कि स्थिति को नियंत्रण में करना सरकार की बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। उनका मानना है कि हमारी रणनीति दो हिस्सों में डिवाइड होनी चाहिए।

राहुल के मुताबिक कोरोना से लड़ने के लिए एकांत में रहना और बड़े पैमाने पर जांच बेहद जरूरी है। साथ ही शहरी इलाकों में बड़े स्तर पर आपातकालीन अस्थाई हॉस्पिटल का तुरंत विस्तार होना चाहिए। इसके अलावा इन चिकित्सा क्षेत्रों में पूर्ण ICU की सुविधा उपलब्ध हो। राहुल गांधी ने कहा कि दिहाड़ी मजदूरों को फौरन सहायता की जरूरत है। उनके अकाउंट में डायरेक्ट कैश ट्रांसफर हो और राशन मुफ्त उपलब्ध कराया जाए। इसमें कोई भी देरी विनाशकारी होगी।

अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर राहुल गांधी ने कहा कि व्यापार ठप है। ऐसे में टैक्स में छूट और आर्थिक सहायता दी जाए ताकि नौकरियां सेफ रहे। छोटे-बड़े व्यापारियों को ठोस सरकारी आश्वासन देने की भी जरूरत है, ताकि वे आश्वस्त रहें। बता दें कि देशभर में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 605 पहुंच गया है। अब तक 12 लोगों की जान इस महामारी ने ली है। कोरोना से सबसे अधिक महाराष्ट्र और केरल प्रभावित हैं। महाराष्ट्र में 112 और केरल में 105 केस सामने आए हैं। कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया है।

यह लॉकडाउन 25 मार्च से लागू हो गया है और 14 अप्रैल तक चलेगा। दफ्तर, बाजार, सार्वजनिक परिवहन सबकुछ बंद है। प्रधानमंत्री ने साफ-साफ कहा है कि इन 21 दिनों तक इस देश में कोई भी अपने घर से बाहर कदम नहीं रखेगा। केवल जीवनरक्षक सेवाएं ही इस दौरान जारी रहेंगी।

Mar 26, 2020 10:26:46 - मे प्रकाशित

अपना काँमेंट लिखें

सब